शुक्रवार, 28 सितंबर 2012

Lag Jaa Gale - Sadhana, Lata Mangeshkar, Woh Kaun Thi Song

10 टिप्‍पणियां:

  1. सुंदर गीत सुनवाने के लिये शुक्रिया संगीता जी.

    उत्तर देंहटाएं
  2. lataji ki madhur awaj ki kashish aur sadhna ki bhavpurna acting ne geet ekdum perfect banaya

    उत्तर देंहटाएं
  3. पुराने गीतों का अपना अलग ही मुकाम है , आज के गीत आते हौं और गायब हो जाते हैं।

    उत्तर देंहटाएं
  4. बहुत बेहतर ....!!!
    नायब मोती लाये है .. इस मंच पे..... हमें इनसे सरोबार करते रहिये...आपकी टिप्पणी हौसला देती है..अन्य रचनाओ का रस्वादन करेंगे...आशा है...बहुत धन्यवाद्...!!!

    उत्तर देंहटाएं
  5. बहुत बेहतर ....!!!
    नायब मोती लाये है .. इस मंच पे..... हमें इनसे सरोबार करते रहिये...आपकी टिप्पणी हौसला देती है..अन्य रचनाओ का रस्वादन करेंगे...आशा है...बहुत धन्यवाद्...!!!

    उत्तर देंहटाएं
  6. लग जा गले के फिर ये हसिन रात हो न हो .....

    मेरा पसंदीदा गीत सुनाने के लिए आभार ....

    उत्तर देंहटाएं
  7. बहुत सुन्दर प्रस्तुति...! सुप्रभात...शनिवार आपको मंगलमय हो...!

    उत्तर देंहटाएं
  8. बहुत प्यारा गीत मुझे भी बहुत पसंद है सुनवाने के लिए आभार

    उत्तर देंहटाएं
  9. ये गाना तो मेरा भी बहुत पसंदीदा है
    बहुत सुंदर

    उत्तर देंहटाएं